आगरा में भाजपा नेता की गोली मारकर हत्या

0
28

आगरा । डौकी के गांव मेहरा नाहरगंज में सोमवार शाम यमुना किनारे भाजपा कार्यकर्ता नाथूराम वर्मा को उसके दोस्तों ने गोलियों से भून दिया। इसके बाद ग्रामीणों ने हत्यारोपी समर और सुधीर को घेरकर पीटा। घायल सुधीर की अस्पताल में मौत हो गई।

मौके पर पहुंची यूपी 100 के पुलिस कर्मियों पर भी ग्रामीणों ने हमला कर दिया। लोगों ने पुलिस पर हत्यारोपियों को बचा कर गाड़ी में बिठाने का आरोप लगाया। नाराज ग्रामीणों ने हत्यारोपियों को बाहर घसीट लिया। पुलिस की गाड़ी फूंक दी और पुलिस कर्मियों को पीटा। थाना की पुलिस आई तो उसे भी घेर लिया। पूरा गांव छावनी बन गया। पुलिस और गांव वालों के बीच कई राउंड फायरिंग हुई। इसी बीच एक हत्यारोपी समर भाग गया। वहीं मारपीट में दूसरे आरोपी सुधीर की मौत हो गई।

शाम करीब 7.30 बजे गांव धनौता निवासी नाथू राम वर्मा को पूर्व प्रधान समर और उसका भाई सुधीर (आम हौद) यमुना किनारे लेकर पहुंचे। किसी बात पर विवाद हुआ। ग्रामीणों के अनुसार आरोपियों ने नाथूराम को दो गोलियां मारीं। वह गांव की तरफ भागा। हमलावरों ने पीछा करके उसे फिर से गोलियां मारीं। इस हमले में नाथूराम की मौत हो गई। हमलावरों को ग्रामीणों ने घेर लिया। सूचना मिलने पर पीआरवी 59 मौके पर आ गई।

पुलिस कर्मियों ने हत्यारोपियों को कब्जे में लेकर गाड़ी में बैठा लिया। इस ग्रामीणों ने हत्यारोपियों को बाहर घसीट लिया। पुलिस कर्मियों ने रोका तो उन्हें पीटा और उनकी गाड़ी फूंक दी। दूसरी पुलिस की गाड़ी को चकनाचूर कर दिया। इसी बीच एक आरोपी समर फरार हो गया।

सूचना पर इंस्पेक्टर डौकी संजीव तोमर फोर्स के साथ पहुंच गए। ग्रामीणों ने थाना पुलिस को भी घेर लिया। अपने को घिरता देख पुलिस ने फायरिंग शुरू कर दी तो ग्रामीणों ने भी मोर्चा खोल दिया। दोनों तरफ से अंधाधुंध फायरिंग हुई

 

LEAVE A REPLY