उत्तराखंड में ये हैं सीएम के दावेदार, अंदर ही अंदर चल रही खींचतान

0
68

उत्तराखंड में भाजपा भारी बहुमत की ओर बढ़ती दिख रही है. 70 विधानसभा सीटों में से 50 से ज्यादा सीटों पर भाजपा बढ़त बनाए हुए है. इसके साथ ही अब बड़ा सवाल मुख्यमंत्री को लेकर है.

भाजपा में फिलहाल चार पूर्व मुख्यमंत्री हैं. अब देखना होगा कि भाजपा उन्हीं में से किसी एक को आगे करती है या फिर महाराष्ट्र और हरियाण की तर्ज पर मोदी-शाह अपनी किसी और पसंद को सीएम की कर्सी पर बैठाते हैं. भाजपा के अंदरूनी सूत्रों के मुताबिक चार लोग सीएम की दौड़ में सबसे आगे बताए जा रहे हैं. भाजपा में सीएम पद के लिए अंदर ही अंदर खींचतान शुरू हो गई है.

सीएम पद को लेकर भाजपा में सतपाल महाराज का नाम चर्चा में है. सतपाल महाराज पौड़ी जिले की चौबट्टाखाल से भाजपा उम्मीदवार हैं. इसके अलावा पूर्व सीएम और हरिद्वार सांसद डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक भी खुद को सीएम की दौड़ में रखने के लिए पूरी तरह जुटे हुए हैं.

हरिश रावत हरिद्वार ग्रामीण सीट पर हारते दिख रहे हैं. करीब 12 बजे तक मिले रूझान में हरीश रावत 14 हजार वोट से पिछड़ रहे थे. हरीश रावत की हार का श्रेय वहां से भाजपा उम्मीदवार यतीश्वरानंद के अलावा रमेश पोखरियाल निशंक को भी मिल सकता है.

इसके अलावा दो नाम जो संघ में के बेहद करीब हैं और दोनों ही अपनी-अपनी सीटों पर जीत रहे हैं. त्रिवेंद्र रावत देहरादून जिले की रायपुर सीट से जीत रहे हैं. त्रिवेंद्र रावत भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में सदस्य हैं और झारखंड के प्रभारी भी रहे हैँ.

इसके अलावा आरएसएस में पकड़ रखने वाले धनसिंह रावत को भी सीएम पद के उम्मीदवार के रूप में देखा जा रहा है. धनसिंह पौड़ी जिले की श्रीनगर सीट से भाजपा उम्मीदवार हैं और जीत की तरफ बढ़ रहे हैं. धनसिंह अमित शाह और पीएम मोदी के भी करीबी बताए जाते हैं.

भाजपा के अंदरूनी सूत्रों की मानें तो ये चार चेहर सीएम की दौड़ में सबसे आगे हैं. हालांकि पीएम मोदी और शाह की जोड़ी अपने हरियाणा और महाराष्ट्र की तर्ज पर किसी पांचवे चेहरे को सीएम कुर्सी पर बैठा सकती है.

LEAVE A REPLY