एमपी का गजब मामला, किश्तों में रिश्वत लेते क्लर्क गिरफ्तार

0
76

मध्य प्रदेश के सिवनी जिले में लोकायुक्त पुलिस ने नगर पालिका के क्लर्क को चार हजार रुपए रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया. भवन निर्माण से जुड़े एक मामले में क्लर्क रिश्वत की डिमांड कर रहा था.

लोकायुक्त डीएसपी दिलीप झरबड़े ने बताया कि फरियादी विजय लखेरा की शिकायत पर यह कार्रवाई की गई. विजय लखेरा ने अपनी शिकायत में बताया कि भवन निर्माण शाखा का प्रभारी क्लर्क रामनन्दन बघेल के पास भवन निर्माण की स्वीकृति का आवेदन रिन्यू नहीं कर रहा था.

जबलपुर लोकायुक्त पुलिस को की गई इस शिकायत में बताया गया था कि क्लर्क बघेल आवेदन मंजूर करने के एवज में पांच हजार रुपए की रिश्वत मांग रहा था. फरियादी पहली किश्त के रूप में एक हजार रुपए दे चुका था. दूसरी किश्त देने के पहले उसने लोकायुक्त पुलिस को शिकायत कर दी, जिसने शुक्रवार दोपहर क्लर्क को रिश्वत लेते रंगे हाथों धर दबोचा.

डीएसपी झरबड़े ने बताया कि रिश्वतखोर क्लर्क के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत केस दर्ज किया गया है. कार्रवाई पूरी होने के बाद क्लर्क को निजी मुचलके पर रिहा किया गया

LEAVE A REPLY