कश्मीर के जंगलों में ट्रेनिंग ले रहे 30 आतंकी, सामने आया वीडियो

0
61

श्रीनगर-कश्मीर में बिगड़े हालात के बीच 30 आतंकियों का फौजी वर्दी में एक नया वीडियो सामने आया है। वीडियो में आतंकियों का एक-एक कर कैमरे के सामने आकर बंदूकें लहराते दिखाया गया है। इससे लगता है कि हथियारों की ट्रेनिंग के लिए नए लड़कों को सीमा पार भेजने के बजाय पुराने कमांडरों की मदद से उन्हें कश्मीर के जंगलों में ही प्रशिक्षण दिया।

माना जा रहा है कि यह वीडियो दक्षिण कश्मीर में जिला शोपियां और कुलगाम के बीच किसी सेब के बाग में बनाया गया है और यह बाग पहाड़ी क्षेत्र में है। वीडियो सामने आने के बाद सुरक्षा एजेंसियां सकते में हैं और वह इसकी सच्चाई का पता लगाने में जुट गई हैं।

कोई भी पुलिस अधिकारी नए वीडियो के बारे में कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है, लेकिन एक अधिकारी ने कहा कि यह वीडियो अहम है, क्योंकि इसमें एक साथ 30 आतंकी हैं। इनमें सिर्फ हिजबुल के ही नहीं, लश्कर और जैश के विदेशी आतंकी भी हैं। हम मान सकते हैं कि विदेशी आतंकी हाल में बंदूक थामने वाले नए लड़कों को स्थानीय स्तर पर ही ट्रेनिंग दे रहे हैं। अन्यथा एक साथ 30 आतंकी एक जगह जमा नहीं होते।

करीब 10 दिन पहले भी एक वीडियो सामने आया था, उसमें 18 लड़के थे। उक्त अधिकारी ने कहा कि बीते एक पखवाड़े के दौरान वायरल हुए दोनों वीडियो दक्षिण कश्मीर के हैं। कुछ समय से देखा गया है कि आतंकी ट्रेनिंग के लिए कोई बड़ा कैंप नहीं लगा रहे। वह इंटरनेट की मदद से नए लड़कों को हथियार के बारे में बताने के बाद जंगल या बाग में एक-दो घंटे की ट्रेनिंग दे रहे हैं।

 

नए आतंकी पढ़े-लिखे भी हैं और जानते हैं कि कब कहां कैसे लोगों के बीच पेश आना है। इनमें से कई स्थानीय मस्जिदों में जाकर लोगों को भाषण देकर जिहाद के नाम पर उकसाते हैं। यही कारण है कि कुछ ग्रामीण डर के कारण और कई इनसे प्रभावित होकर सुरक्षाबलों की घेराबंदी के दौरान आतंकियों को बचाने का काम करते हैं।

 

आतंकी संगठनों में शामिल हो रहे नए लड़के सिर्फ जंगलों तक ही सीमित नहीं हैं। यह दक्षिण कश्मीर के विभिन्न गांवों और कस्बों में भी खुलेआम घूम रहे हैं, क्योंकि इन्हें पता है कि गांव से कोई मुखबरी नहीं करेगा और अगर सुरक्षाबल गांव की तरफ आएंगे तो ग्रामीण ढाल बनकर पथराव कर उन्हें सुरक्षित बच निकलने में मदद करेंगे।

 

LEAVE A REPLY