पनामा पेपर्स मामला: पाकिस्तान लौटे नवाज शरीफ करेंगे आरोपों का सामना

0
31

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पनामा पेपर्स मामले में भ्रष्टाचार और मनी लांड्रिंग के आरोपों का सामना करने सोमवार को ब्रिटेन से स्वदेश लौट आए। वह 31 अगस्त से लंदन में अपनी पत्नी कुलसुम नवाज के साथ थे जो वहां गले के कैंसर का इलाज करवा रही हैं।

पनामा पेपर्स मामले में संलिप्तता के चलते ही शरीफ को प्रधानमंत्री की कुर्सी गंवानी पड़ी थी। शरीफ ने अपनी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं और छोटे भाई पंजाब प्रांत के मुख्यमंत्री शाहबाज शरीफ से सलाह-मशविरे के बाद मुल्क लौटने का फैसला किया।

शरीफ के प्रवक्ता आसिफ किरमानी ने सोमवार को कहा, ‘पार्टी नेताओं और सलाहकारों से इस मामले में विचार-विमर्श करने के बाद नवाज 26 सितंबर को अपने ऊपर लगे आरोपों का बचाव करने के लिए कोर्ट में पेश होंगे।’

मालूम हो कि कोर्ट ने बीते सप्ताह पनामा पेपर्स मामले में शरीफ और उनकी बेटी मरियम व दामाद सफदर को कोर्ट में पेश होने के लिए समन जारी किया था। मरियम ने इस मामले को राजनीतिक साजिश बताया है।

उन्होंने कहा कि उनके पिता केवल जनता के लिए इन आरोपों का सामना करने मुल्क लौटे हैं। नेशनल अकाउंटेबिलिटी ब्यूरो ने शरीफ और उनके परिवार के खिलाफ पनामा पेपर्स मामले में तीन मुकदमे दर्ज किए हैं। अदालत में पेशी का दबाव बनाने के लिए पिछले सप्ताह नवाज और उनके परिवार के सदस्यों के बैंक खाते व संपत्ति फ्रीज कर दिए गए थे

LEAVE A REPLY