पाकिस्तान में टेलीग्राम एप का इस्तेमाल कर रहा आईएस

0
53

इस्लामाबाद। पाकिस्तान में इस्लामिक स्टेट (आइएस) के आतंकियों ने अधिकारियों की आंख में धूल झोंकने का नया तरीका खोज निकाला है।

पकड़ से बचने के लिए आतंकी संपर्क के लिए एक-दूसरे को फोन करने की बजाय मैसेज का इस्तेमाल कर रहे हैं। इसके लिए उन्होंने टेलीग्राम मैसेंजर एप का सहारा लिया है।

समाचार पत्र द एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने पुलिस अधिकारी के हवाले से लिखा, आतंकी संपर्क करने के पारंपरिक तरीकों का इस्तेमाल करने से बच रहे हैं।

जांच एजेंसियां फोन को आसानी से ट्रैक कर लेती हैं, इसलिए आतंकियों ने अब मैसेजिंग एप का प्रयोग करना शुरू कर दिया है। उनकी यह रणनीति सफल भी हो रही है।

उन्होंने बताया कि टेलीग्राम एप की कुछ खूबियां आतंकियों के लिए ज्यादा मददगार हो रही हैं। टेलीग्राम एप से भेजे जाने के बाद वॉइस मैसेज खुद ब खुद फोन से डिलीट हो जाता है।

इसलिए बाद में इसे ट्रैक कर पाना भी संभव नहीं रहता। आतंकियों का संपर्क तोड़ने के लिए पाकिस्तान सरकार ने कई कदम उठाए हैं।

सिम कार्ड देने के नियमों में सख्ती और हजारों की तादाद में संदिग्ध सिम बंद करने जैसे कदम इनमें शामिल हैं। लेकिन आतंकी अब भी रास्ता खोज ले रहे हैं।

कई दुकानदार बड़ा फायदा देखकर आज भी आतंकियों को पहले से एक्टिवेट किए हुए सिम बेच रहे हैं। इसके अलावा तरह-तरह की तकनीकों ने आतंकियों को और भी रास्ते मुहैया करा दिए हैं

LEAVE A REPLY