बीई छात्रों को पुलिस ने पकड़ा , बरामद हुई पौने दो लाख की चरस

0
66

भोपाल। राजधानी में नेपाल के रास्ते बिहार से लाकर शहर में चरस बेचने का काला कारोबार लगातार फल फूल रहा है। अशोका गार्डन में एमबीए छात्रों की चरस के साथ गिरफ्तारी होने के बाद मंगलवार को गांधी नगर पुलिस ने एक बार फिर से दो इंजीनियरिंग छात्रों को पौने दो लाख कीमत की चरस के साथ धरदबोचा।

दोनों आरोपी छात्र थैले में चरस लेकर गांधीनगर चौराहे पर सप्लाई करने आए थे। जहां से दोनों को गिरफ्तार किया गया। गांधी नगर टीआई कुलदीप खत्री ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि दो युवक चरस की सप्लाई करने गांधी चौराहे पर आने वाले हैं।

सूचना के बाद एक टीम को मौके पर भेजा , लेकिन मौके पर पहुंचकर पुलिस को कोई आरोपी नजर नहीं आया। थोड़ी देर इंतजार करने के बाद एक बाइक पर सवार दो आरोपी नजर आए और दोनों को हिरासत में लेकर थाने लाया गया।

जहां उनकी पहचान सागर कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग के छात्र के रूप में अभिषेक कुमार और आनंद कुमार के रूप में हुई। दोनों बीई फाईनल ईयर के छात्र हैं। दोनों आरोपियों के पास से एक किग्रा 768 ग्राम चरस बरामद की गई है। जिसकी मार्केट कीमत एक लाख 78 हजार स्र्पए है।

दो पैकिट में छुपाकर रखी थी चरस

आरोपियों ने पुलिस चेकिंग में चकमा देने के लिए चरस को दो पैकिट में छुपाकर बैग में रखे हुए था। पकड़े गए बदमाश अभिषेक कुमार सागर कॉलेज गांधी नगर में इंजीनियरिंग में फाइनल ईयर का छात्र है और कोचिंग में पढ़ाता है। जबकि आनंद कुमार इंजीनियरिंग कर रहा है।

दोनों बदमाश बिहार के रहने वाले हैं, और पढ़ाई करने के लिए भोपाल आए थे। जहां खर्चे पूरे न करने के एवज में आरोपियों ने चरस का धंधा शुरू किया और सीधे बिहार के मादक पदार्थ तस्करो के संपर्क से चरस मंगा रहे थे।

एक ही गिरोह होने की आशंका

अशोका गार्डन में पुलिस के गिरफ्त में आए एमबीए छात्र और गांधी नगर में चरस के साथ गिरफ्तार हुए बीई छात्रों को बिहार का एक ही गिरोह चरस सप्लाई कर रहा था।पुलिस इस केस के सिलसिले में आरोपियों से पूछताछ कर रही है। फिलहाल दोनों आरोपियों पर एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया है।

 

LEAVE A REPLY