मलयेशिया ने उत्तर कोरियाई नागरिकों के देश छोड़ने पर लगाया प्रतिबंध

0
51

कुआलालम्पुर
मलेशिया में उत्तर कोरियाई शासक किम जोंग उन के सौतेले भाई किम जोंग नम की हत्या के बाद दोनों देशों के बीच तल्खी बढ़ती ही जा रही है। प्योंगयंग द्वारा मलयेशियाई नागरिकों के देश से बाहर जाने पर रोक के बाद मलयेशिया ने भी अपने देश में मौजूद उत्तर कोरियाई नागरिकों के देश छोड़ कर जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है।

मलयेशिया के उप प्रधानमंत्री अहमद जाहिद हमीदी ने घोषणा करते हुए बताया कि तुरंत प्रभाव से यहां मौजूद उत्तर कोरियाई नागरिकों के देश छोड़ कर जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। हालांकि उन्होंने हत्या के संबंध में मलयेशियाई पुलिस द्वारा हिरासत में लिए गए 8 उत्तर कोरियाई नागरिकों के बारे में कोई जानकारी नहीं दी।

इससे पहले मलयेशिया ने उत्तर कोरियाई राजदूत कांग चोल को भी निष्कासित कर दिया था। इसके पीछे उत्तर कोरियाई नेता के सौतेले भाई की हत्या की जांच में उलट-फेर की कोशिश को वजह करार दिया गया था।
इससे पहले उत्तर कोरिया की सेंट्रल न्यूज एजेंसी ने विदेश मंत्रालय के हवाले से बताया कि जब तक मलयेशिया में हुई घटना का समाधान नहीं हो जाता तब तक उत्तर कोरिया में मौजूद सभी मलयेशियाई नागरिकों को देश छोड़ कर जाने की अनुमति नहीं है।

मलयेशिया के विदेश मंत्रालय के सूत्र ने बताया कि उत्तर कोरिया में इस वक्त 11 मलयेशियाई नागरिक मौजूद हैं, जिनमें से 9 प्योंगयंग स्थित दूतावास में हैं जबकि 2 वर्ल्ड फूड प्रोग्राम का हिस्सा हैं।

उत्तर कोरिया और मलयेशिया के बीच पिछले कई वर्षों से मजबूत संबंध हैं, लेकिन किम के भाई की हत्या के बाद से रिश्तों में तल्खी आई है।

LEAVE A REPLY