शिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने तीन तलाक को बताया गैर इस्लामिक

0
62

शिया धर्मगुरु और ऑल इंडिया शिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के प्रवक्ता मौलाना यासूब अब्बास ने तीन तलाक को गैर इस्लामिक करार दिया. मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि एक तरफ हम ये कहते हैं कि इस्लाम में औरतों का मुकाम सबसे ऊपर है वहीं दूसरी तरफ हम अभी भी तीन तलाक जैसी कुप्रथा को ढो रहे हैं.

तीन तलाक पर शिया धर्म गुरु ने कहा कि तीन तलाक इस्लामिक नहीं है, कुछ लोगों ने मजहब को मजाक बना रखा है.

आपको बता दें, ट्रिपल तलाक के मसले पर ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड और शिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड का रुख एक नहीं है. हाल ही में मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट में तीन तलाक को लेकर एक हलफनामा दाखिल किया था जिसमें कहा था कि सोशल रिफॉर्म के नाम पर मुस्लिम पर्सनल लॉ को दोबारा नहीं लिखा जा सकता. संविधान के अनुच्छेद- 25, 26 और 29 ऐसा करने की इजाजत नहीं देता.

गौरतलब है कि तीन तलाक का मुद्दा यूपी चुनाव पर भी छाया रहा है. अमित शाह ने बीजेपी का घोषणापत्र जारी करते हुए कहा था कि अगर यूपी में उनकी पार्टी सत्ता में आई, तो वह तीन तलाक के मुद्दे पर प्रदेश की मुस्लिम महिलाओं से राय लेगी और उसके अनुसार सुप्रीम कोर्ट जाएगी. बता दें, यह मुद्दा सुप्रीम कोर्ट में विचाराधीन है और इसका फैसला आना बाकी है.

LEAVE A REPLY