सीएम शिवराज सिंह चौहान ने 7 अधिकारियों को सस्पेंड किया

0
71

भोपाल/सीहोर,  समाधान ऑनलाइन में मंगलवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एक बार फिर अधिकारियों पर बिफर गए। सीएम हेल्पलाइन की शिकायत पर कार्रवाई नहीं करने पर मुख्यमंत्री ने वन विभाग के पीसीसीएफ एलके चौधरी को तत्काल सस्पेंड करने के निर्देश दिए। इसपर सीएम के प्रमुख सचिव अशोक बर्णवाल ने बीच-बचाव करते हुए कहा कि सर, चौधरी पीसीसीएफ हो गए हैं। तब सीएम हेल्पलाइन शुरू ही हुई थी। इस पर शिवराज भड़क गए।

उन्होंने कहा कि कुछ भी बन जाए, मैंने सस्पेंड करने को कह दिया तो होना चाहिए। खास बात यह है कि चौधरी इसी साल रिटायर हो रहे हैं। चौधरी का मामला धार जिले से जुड़ा है। ग्राम पंचायत बाग के फिरोज खान ने वन विभाग को की गई रेत सप्लाई का भुगतान समय से नहीं मिलने की शिकायत सीएम हेल्पलाइन में की थी। चौधरी ने शिकायत का फोर्स्ड क्लोजर कर दिया। इस पर शिवराज ने चौधरी को सस्पेंड करने के निर्देश दिए।

चौधरी के साथ-साथ जनपद पंचायत सरदारपुर के कार्यपालन अधिकारी को भी निलंबित किया गया। इसके बाद मुख्यमंत्री ने साफ कर दिया कि सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों का निराकरण नहीं करने वाले अधिकारियों पर जुर्माने का प्रावधान भी किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने सभी कमिश्नर्स के मैदानी दौरे नहीं करने पर भी नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि कमिश्नर शोभा की वस्तु नहीं हैं। वे गांवों के दौरे करें और रिपोर्ट दें।

ये भी हुए निलंबित

शिवपुरी में पदस्थ विद्युत विभाग के सहायक महाप्रबंधक जीके श्रीवास्तव, सहायक ग्रेड 3 भगवानदास शर्मा, उमरिया के तत्कालीन महिला सशक्तिकरण अधिकारी जेपी सोनी, छिंदवाड़ा में महिला एवं बाल विकास की संयुक्त संचालक सीमा शर्मा और माशिमं की पंजीयक सीता सनोटिया।

 

LEAVE A REPLY